हरिद्वार में कुण्डलिनी जागरण शक्तिपात सम्पन्न

हिमालय से आ रही पवित्र और ठंढी हवाओं के बीच हरिद्वार में कुण्डलिनी जागरण शक्तिपात

सभी को राम राम
5 जनवरी 2020 को हरिद्वार में कुंडली जागरण शक्तिपात साधना संपन्न हुई। साधना के लिए शक्तिपात साधक छत्तीसगढ़, बिहार, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, आगरा, मुंबई, सोनीपत, हरिद्वार, दिल्ली लखनऊ और फरीदाबाद विभिन्न प्रांतों से सामिल हुए। शक्तिपात साधकों ने हिमालय से आ रही पवित्र और ठंढी हवाओं के बीच हरिद्वार में आज गुरुजी के साथ शक्तिपात साधना सम्पन्न की। गुरु जी ने साधकों पर शक्तिपात करके उनके ऊर्जा चक्र और कुंडलिनी के जागरण की प्रक्रिया को संपन्न किया। शक्तिपात साधना में गुरु जी ने साधकों के भीतर पंचतत्वों के संतुलन और सक्रियता हेतु मृत्युंजय विधान के द्वारा साधको के पंच केंद्रों को सक्रिय किया। इसके लिए मृत्युंजय विज्ञान का उपयोग किया गया। साथ ही गुरु जी ने मृत्युंजय विज्ञान के द्वारा ग्रहों को उपचारित करने की विधि समझाई। उनकी सकारात्मक ऊर्जा को अपने जीवन में उतारने और उपयोग करने की विधि साधकों को बताई। साथ ही साधकों को उनका प्रयोग कराया। साधना के अंत में गुरु जी ने साधकों के पितरों के मोक्ष हेतु मोक्षकारी ऊर्जाओं को ब्रह्मांड में प्रक्षेपित करने की विधि संपन्न कराई। जिससे पितरों को संतुष्टि मिलती है और उन्हें मोक्ष प्राप्त होता है।
अगली शक्तिपात साधना 19 जनवरी 2020 ( रविवार ) को मुंबई में संपन्न होगी।
हेल्पलाइन 7666261111 और 9250500800
शिव शरणं

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: