Rudrabhishek Registration

रुद्राभिषेकः एक देव अनुष्ठान

बिगड़ी बनाने के लिये देवी देवता भी इसका सहारा लेते हैं. रुद्राभिषेक जन्मों की दुखदायी उर्जाओं से मुक्ति देने में सक्षम होता होता. शास्त्र बताते हैं कि देवों ने भी अपने काम बनाने के लिये समय समय पर रुद्राभिषेक का सहारा लिया.
वैसे तो रुद्राभिषेक शिवलिंग पर किया जाने वाला उच्च कोटि का अध्यात्मिक अनुष्ठान है. मगर इसमें सभी 33 कोटि देवी देवताओं को एक साथ प्रशन्न करने की विधि है. इसके करने से सिर्फ महादेव शिव ही प्रशन्न नही होते अपितु ब्रह्मांड के सभी देव यहां तक कि ग्रह-नक्षत्र भी अनुकूल हो जाते हैं. ये देव अनुकूलता जीवन में आनंद, उत्साह, उमंग और सिद्धी प्रसिद्धी भर देती है.
उर्जा विज्ञान के मुताबिक रुद्राभिषेक समस्यायें उत्न्न करने वाली उर्जाओं को तत्काल समाप्त करने में सक्षम होता है.
रुद्राभिषेक पूरे कुल के कल्याण में सक्षम होते हैं. शास्त्र कहते हैं इससे आने वाली पीढ़ियों की सफलता भी सरलता प्राप्त कर लेती है.
मृत्युंजय योग ने लोकहित में दिव्य रुद्राभिषेक का संकल्प लिया है. आप भी इसमें शामिल हो सकते हैं. आप स्वयं आकर या घर बैठे संकल्प देकर इसका हिस्सा बन सकते हैं. गुरुजी आपकी ऊर्जाएं रुद्राभिषेक और उसके बाद होने वाले यज्ञ से कनेक्ट करेंगे।
आगे दिये PAY NOW बटन को क्लिक करके अपना संकल्प दे सकते हैं। संकल्प मिलते ही हमारे सहयोगी आपसे सम्पर्क करके रुद्राभिषेक का आयोजन सम्पन्न कराएंगे।
हेल्पलाइन- 9250500800