गुरु जी के उपाय पायें


जिस समस्या के लिये आपने एनर्जी चेकअप किया है, उसे अपनी एनर्जी ठीक करके आप खुद ही खत्म कर सकते हैं. इसके लिये आपको जिस विधि की जानकारी हो, उसे अपनायें. कोई विधि न पता हो तो एनर्जी गुरू जी के उपाय अपना सकते हैं. 
जो घरेलू, आसान, सटीक और प्रभावशाली होते हैं। उनको करने में कोई खर्च नही आता. निम्न स्टेप पूरे करके आप गुरु जी के उपाय सरलता से प्राप्त कर सकते. 

इसके लिये आपको प्रति समाधान 500/- रुपये के अंशदान का सहयोग देना है.


Step1- Pay NOW >>>

ऊपर के लिंक से सहयोग राशि आनलाइन जमा कर सकते हैं. आपसे अनुरोध है कि हड़बड़ी या कन्फ्यूजन में हमें भुगतान न करें. हमारी बातों और सेवाओं को ठीक से जान व समझ लें. पूरी तरह संतुष्ट हों तो ही भुगतान करें.


Step2- भुगतान की जानकारी दें >>> 

ऊपर के लिंक से अंशदान भुगतान की जानकारी दे दीजिये. उसका सत्यापन होते ही, आपको मोबाइल/ई मेल पर मैसेज के द्वारा उपाय की सूचना दी जाएगी.


Step3- उपाय प्राप्त करें >>>

ऊपर के लिंक से मोबाइल/ई मेल पर मैसेज मिलने के बाद आप कभी भी अपने उपाय देख सकते हैं. इसके लिये वहां एनर्जी चेक-अप रजिस्ट्रेशन नम्बर और मोबाइल नम्बर सम्मिट करें.


हमें अंशदान लेने की जरूरत 
क्यों पड़ रही है… 
एनर्जी चेकअप रिपोर्ट फ्री देने के बाद हमें उपायों के लिये आपसे अंशदान क्यों लेना पड़ रहा है ये आप भी जान लें.
एेसा विश्व में पहली बार हुआ है. जब किसी की समस्या के आधार पर किसी की एनर्जी डिकोड करके उसके आभामंडल और उर्जा चक्रों की स्थिति का पता लगाया जा सके. साथ ही तत्काल उसकी रिपोर्ट दी जा सके. इसमें मनोविज्ञान की EQ तकनीक का उपयोग किया जा रहा है. एनर्जी चेकअप का ये प्रोसेस लम्बी रिसर्च और उच्च तकनीकी टीम की सक्रियता से सम्भव हो पा रहा है.
1. किसी की एनर्जी डिकोड करके उसकी जांच रिपोर्ट प्रोसेस करने में काफी खर्च आता है. इसमें सर्वर मेंटीनेंस का खर्च, सोसल मीडिया सिस्टम की एक्टिविटी का खर्च, मैसेज मेंटीनेंस टीम का खर्च, तकनीकी टीम का खर्च, वर्कशाप का खर्च, आफिस मेंटीनेस का खर्च आदि होते हैं.
फिर भी हम एनर्जी चेकअप रिपोर्ट फ्री ही उपलब्ध करा रहे हैं. 
2. जब हम एनर्जी चेकअप से प्राप्त चेकअप रिपोर्ट के मुताबिक समस्या समाधान के उपाय भेजते हैं तो ये खर्च बहुत अधिक बढ़ जाता है. क्योंकि हर व्यक्ति और हर समस्या के उपाय अलग अलग भेजे जाते हैं.
5. सबके लिये अलग अलग उपायों का पता लगाने में गुरु जी और उनकी एनर्जी रिसर्च की टेक्निकल टीम को काफी समय लगाना होता है. गुरु जी इसके बदले कोई फीस नही ले रहे. लेकिन उनके साथ काम कर रहे उर्जा विशेषज्ञों को भुगतान किया जाता है. साथ ही उन उपायों को को सिस्टमाइज करके भेजने के लिये का काम करने वाली उच्च दक्षता वाले साफ्टवेयर इंजीनियरों की टीम को भी भुगतान किया जाता है. मैसेज भेजने का खर्च आता ही है. कुल मिलाकर पूरे प्रोसेस पर प्रति माह लाखों में खर्च आता है.

इसमें सहयोग के लिये आपसे अंशदान लिया जा रहा है. ताकि हमारा ये अभियान बिना रुकावट चलता रहे.


आपका जीवन सुखी हो, यही हमारी कामना है


%d bloggers like this: