कुंडली महासाधना और कायाकल्प साधना का संगम पहली बार…

14729084_307827499604005_7343297721475851627_n.jpgकुंडली महासाधना शिविर और संजीवनी कायाकल्प शिविर के के बारे में ग्रुप केकुछ साथियों ने सवाल पूछे हैं.
हम उनके जवाब यहां दे रहे हैं.

१). शिविर की तिथि क्या है, उसमें आने का रजिस्ट्रेशन कैसे करते है ?
जवाब… शिविर 21 नवम्बर 2016 को होगा. 9210500800 पर काल करके अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं.

२). शिविर में गुरूजी क्या करवाते है ?
जवाब… शिविर में गुरु जी साधकों को कायाकत्प साधना कराएंगे. जिससे बढ़ती उम्र का प्रभाव और बीमारियां रुक जाती हैं. इस बारे में शिऴिर में साधना से पहले पूरी जानकारी दी जाएगी.
…. कायाकल्प साधना के बाद गुरु जी साधकों की कुंडली जागृत करने के लिये संजीवनी शक्तिपात करेंगे. साथ ही अपनी कुंडली से काम लेने की विधि सिखाएंगे.
…. जागृत कुंडली से काम लेने से साधक के जीवन में सिद्धी – प्रसिद्धी- और समृद्धी आ जाती है.
साधना से पहले इस बारे में तकनीकी जानकारी विस्तार से दी जाएगी.

३) क्या शिविर में गुरूजी प्रॉब्लम का समाधान देते है ?
जवाब… हां जो लोग अपनी समस्या लिखकर देंगे गुरु जी उनका समाधान देंगे. और उनके उपाय अपने खर्चे पर कराएंगे.

४) रजिस्ट्रेशन की लास्ट डेट क्या है?
जवाब… लास्ट डेट 31 अक्टूबर है.

५) शिविर का कहा पर होगा ?
जवाब… शिविर दिल्ली के शाह आडिटोरियम में होगा. जो आई.एस.बी.टी के पास है.

६)शिविर का रजिस्ट्रेशन फीस क्या है?
जवाब… रजिस्ट्रेशन की कोई फीस नही.
साधना में शामिल होने के लिये साधक के पास अपना कायाकल्प रुद्राक्ष या कुंडली जागरण यंत्र होना चाहिये.
साधना की व्यवस्थाओं का खर्च साधकों से सहभागिता के आधार पर लिया जाएगा. जिसमें आडिटोरियम का किराया, वहां की साज सज्जा, साधकों को जलपान, भोजन आदि प्रमुख मद शामिल होते हैं. इस पर प्रति साधक 1100 का खर्च आने का अनुमान है.
इसके साथ ही जो साधक तीन दिन की गहन साधना करना चाहेंगे उनके रहने खाने की होटल व्यवस्था होगी. इस साधना के लिये कायाकल्प रुद्राक्ष अनिवार्य होगा. साथ ही कुंडली जागरण यंत्र की जरूरत होगी.
7. काया कल्प रुद्राक्ष क्या होता है.
जवाब … 10 मुखी रुद्राक्ष में से कुछ में कायाकल्प की क्षमता होती है. कायाकल्प रुद्राक्ष ग्रह नक्षत्रों के दोष, देवबाधा को हटाकर आभामंडल और उर्जा चक्रों को जाग्रत कर लेता है. साथ ही साधकों की कोशिकाओं (सेल्स) को रिजंरेट करके तन और मन को बीमारी व उलझनों से बाहर निकालता है. शरीर पर बुढ़ापा नही आने देता.
इसे सिद्ध करके कायाकल्प के लिये तैयार करने में 5100 का अनुष्ठान खर्च आता है.

साधक चाहें तो खुद सिद्ध करके ला सकते हैं. मगर पहले संस्थान में दिखा लें. अगर उसे कायाकल्प के लिये ठीक से सिद्ध नही हुआ तो साधना बेकार जाएगी.

8. क्या ये रुद्राक्ष कैश आन डिलीवरी से मंगा सकते हैं.
हां, मंगा सकते हैं.
…….. टीम मृत्युंजय योग, सम्पर्क- 9250145000

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s